Life

जाने भारत के 5 रहस्यमय मंदिर | Mysterious Temples in India

5mysterious Temple/www.todaythinking.com/
Written by Himanshu sonkar

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप सब दोस्तों आज हम जानेंगे भारत के 5 रहस्यमय प्राचीन मंदिरों के बारे में और साथ ही साथ जानेंगे यह मंदिरों का क्या इतिहास है और जानेंगे यह मंदिरों का रहस्य जो आपको हैरान कर देगी.

5 Mysterious Temples in India

जैसा कि हम जानते हैं हमारे विश्व में कुल 195 देश है तथा भारत ऐसा देश है जिसमें अलग-अलग धर्मों के लोग आपस में मिलजुल कर रहते हैं तथा सभी धर्म के लोग अपने अपने धर्म के अनुसार स्वतंत्र रूप से है दोस्तों इस बात से तो हम सभी वाकिफ है कि भारत 33 करोड़ देवी देवताओं वाला देश है भले यहां के लोग का धर्म अलग – अलग हो परंतु सभी एक है और भारत की एकता में शक्ति है .

हमारा भारत बहुत ही प्राचीन देशों में से एक है भारत की खोज 20 मई 1498 को वास्कोडिगामा ने की थी 520 वर्ष पुराने भारत ने आज काफी तरक्की की सीढ़ी चढ़ी है आज से लगभग 400 वर्ष पहले भारत एक साधारण देश था जहां कई राजा महाराजाओं ने शासन भी किया तथा भारत में बहुत धन-ध्यान एवं सोना पाए जाने के कारण भारत को सोने का चिड़िया भी कहा जाता था.

प्राचीन भारत में कई ऐसी घटनाएं घटी जो आज भी स्मरणीय है इसी तरह भारत में ऐसे कई प्राचीन मंदिर है जो आज भी है और यह मंदिर प्राचीन भारत का इतिहास आज भी जीवित रखती है. “5 Mysterious Temples in India”

आइए जानते हैं कुछ प्राचीन मंदिरों के बारे में तथा उनकी रहस्यमई घटनाओं के बारे में  –

1# जगन्नाथ पुरी –

जगन्नाथ मंदिर उड़ीसा राज्य में है जो चार धामों में से एक है  जगन्नाथ मंदिर बहुत ही प्राचीन मंदिर है जिसमें जगन्नाथ बलराम और सुभद्रा की मूर्ति स्थापित है .

मूर्ति की स्थापना कैसे हुई इसके पीछे बहुत बड़ा रहस्य है –

कहा जाता है कि कई वर्षों पहले पूरी में एक राजा हुआ करते थे जिनका नाम इंद्रदेव था इंद्रदेव देव श्री हरि के बहुत बड़े भक्त थे उनके सपने में श्री हरि  ने दर्शन दिए और कहा कि समुद्र किनारे लकड़ियां मिल जाएंगे उनसे मेरी मूर्ति बनाकर स्थापना की जाए अगले दिन राजा को सच में समुद्र किनारे लकड़ियां मिल गई अब सवाल यह था कि मूर्ति का निर्माण कौन करेगा तब एक बूढ़े ब्राह्मण ने यह जिम्मा अपने से लिया और राजा से मूर्ति पूर्ण करने के लिए एक रात का समय मांगा

वह ब्राह्मण ने राजा के लिए एक सर्त रखा कि जिस स्थान में मूर्ति बन रही हो जो कि एक कमरा था वहां पर कोई प्रवेश ना करें अगर कोई प्रवेश करेगा तो मूर्ति अधूरी रह जाएगी लेकिन राजा की उत्सुकता उनके सर चढ गई और वह अपने उत्सुकता के कारण रह नहीं पाए और उन्होंने मूर्ति को चुपके से देख लिया जिससे मूर्ति अधूरी रह गई और वह मूर्ति आज भी वैसे ही है.

मूर्ति के दोनों हाथ अधूरे रह गए और उसी मूर्ति की स्थापना मंदिर में कर दी गई वह बूढ़ा ब्राह्मण और कोई नहीं विश्वकर्मा थे जो एक रात में ही बड़े-बड़े भवन और मंदिर एवं मूर्तियां बना देते थे.

जगन्नाथ मंदिर का अनसुना रहस्य

  • जगन्नाथ मंदिर की चोटी पर जो झंडा लगा है वह हवा की उल्टी दिशा में लहराती है इस झंडे को रोज शाम को बदला जाता है और झंडे को बदलने वाला व्यक्ति चोटी पर उल्टे पांव चढ़ता है .
  • मंदिर के गुंबद की परछाई नहीं दिखाई देती तथा गुंबद के ऊपर कोई भी पक्षी तथा हवाई जहाज नहीं उड़ सकता .
  • मंदिर के ऊपर जो सुदर्शन चक्र है उसे किसी भी दिशा से देखने पर वह सीधा ही दिखाई देता है जैसे वह देखने वाले की तरफ ही हो .
  • मंदिर के द्वार में प्रवेश करते ही समुद्र से आने वाली लहरों की आवाज बंद हो जाती है और द्वार से निकलते ही पुनः लहरों की आवाज सुनाई देती है.
  • यहां पर मोक्ष प्राप्ति स्थान है जहां शवों को जलाया जाता है जब हम मंदिर के बाहर होते हैं तो शवों को जलाने पर उनकी बदबू हमें आती है लेकिन मंदिर के अंदर प्रवेश करने पर शवों के जलने की बदबू बिल्कुल नहीं आती.
  • जगन्नाथ मंदिर में जिस स्थान पर प्रसाद बनता है वहां प्रसाद बनाने के लिए बर्तनों को एक के ऊपर एक रखा जाता है और सबसे ऊपर के बर्तन में प्रसाद बनाया जाता है और वह प्रसाद पाक भी जाता है. “5 Mysterious Temples in India”

2# कैलाश मंदिर –

दोस्तों यह कैलाश मंदिर महाराष्ट्र राज्य के औरंगाबाद में है जो एक शिव मंदिर है वैज्ञानिकों द्वारा माना गया है कि यह मंदिर 6000 वर्ष प्राचीन मंदिर है कहा जाता है कि यह मंदिर इट और रेट से नहीं बनाया गया बल्कि एक विशाल पत्थर चट्टान को काट कर बनाया गया है यह मंदिर की सबसे बड़ी अद्भुत बात यह है कि यह मंदिर को नीचे से ऊपर की ओर नहीं बल्कि ऊपर से नीचे की ओर बनाया गया है.

माना जाता है कि इस मंदिर को बनाने में 18 वर्ष से भी अधिक समय लगा है हमारे वेदों में एक अस्त्र के बारे में बताया गया है जिसकी मदद से ही शायद इस मंदिर को बनाया गया है इस अस्त्र का नाम है बॉम अस्त्र है यह अस्त्र के मदद से पत्थर को या बड़े- बड़े चट्टान को दो भागों में आसानी से काटा जा सकता था.

कैलाश मंदिर का अनसुना रहस्य

यह मंदिर में कुछ रहस्यमई गुफाएं हैं इंग्लैंड के महिला ने सन 1876 में एक किताब लिखी थी वह महिला उस किताब को लिखने के लिए एक ब्रिटिश शख्स से जाकर मिली जो वह मंदिर की गुफा के अंदर जा चुके थे पूछताछ पर उन्होंने बताया कि वह गुफा के अंदर कुछ ऐसे रहस्यमई लोग दिखे जिसे वह नहीं जानते वह कहते हैं कि वह इस दुनिया के नहीं है लेकिन यह अभी भी रहस्य से भरी हुई है अब यह गुफा को सरकारी तौर पर बंद कर दिया गया है और यह गुफा का रहस्य आज भी वहां दफन है. “5 Mysterious Temples in India”

3# करणी माता मंदिर –

करणी माता मंदिर राजस्थान का प्राचीन मंदिर है करणी माता का अवतार सन 1444 को हुआ था माताजी के उपासक कहते हैं कि माता ने वहां कई चमत्कार किए हैं माता एक गुफा में रहती थी और जिस गुफा में माता रहती थी वहां अब एक ज्योतिर्लिंग है माताजी की उस समय विवाह भी हुई थी लेकिन उन्होंने आजीवन ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करना चाहा माता जी की एक छोटी बहन थी जिसका विवाह हुआ और विवाह के बाद उनके चार पुत्र हुए इस तरह से उनका वंश आज भी यह मंदिर की पूजा करती है.

करणी माता मंदिर का रहस्य-

या मंदिर की सबसे बड़ी रोचक बात यह है कि यह मंदिर में 2000 से भी ज्यादा चूहे रहते हैं अब यह मंदिर में इतने सारे चूहे क्यों है इसका जवाब किसी के पास नहीं है लेकिन यह चूहे इतने सारे होने के बावजूद किसी के पैरों तले दबे नहीं है यह चूहे सिर्फ दूध का सेवन करते हैं और कहा जाता है कि या चूहों को दूध पिलाने पर लोगों की मनोकामना पूर्ण हो जाती है.

इन चूहों के पीछे का रहस्य कुछ इस प्रकार हैमाता जी के छोटी बहन के 1 पुत्र का कुएं में गिरने के कारण मृत्यु हो गई जिसके चलते माताजी ने यमराज से अपने बहन के पुत्र को वापस मांगने के लिए प्रार्थना की और यमराज ने उनकी बहन के पुत्र को एक चूहे के रूप में वापस कर दिया तबसे यह मंदिर में चूहे आते हैं . “5 Mysterious Temples in India”

4# पद्मनाभस्वामी मंदिर –

दोस्तों पद्मनाभस्वामी मंदिर केरल के तिरुवंतपुरम में स्थित है यह मंदिर पूरी तरह से भगवान विष्णु को समर्पित है इस मंदिर के गर्भगृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति विराजमान है जो शेषनाग में शयन मुद्रा में विराजमान है यह मंदिर काफी रहस्यमई है यह मंदिर विश्व का सबसे अमीर मंदिर है 18 वीं सदी में त्रावणकोर के राजाओं ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था .

पद्मनाभस्वामी मंदिर का रहस्य –

इस मंदिर के कुल 7 द्वार है जिसमें बहुत  संपत्ति है इस मंदिर के 6 द्वार खोले जा चुके हैं जिसमें से कुल 132000 करोड़ के सोने व जेवरात मिले हैं लेकिन सातवां गेट अभी तक खोला नहीं गया है यह गेट रहस्यमई है जब भी इस गेट को खोलने की बात होती है इसकी अनहोनी या सामने आने लगती है इसमें कोई भी कुंडी नहीं है इसमें दो सांपों का शिल्प बना हुआ है.

कहा जाता है कि सर्प यह गेट की रक्षा करते हैं यह गेट के पीछे क्या है कोई नहीं जानता यह गेट को खोलने के लिए कोई कुंजी का प्रयोग नहीं किया जा सकता है यह गेट को केवल एक विशेष मंत्र उच्चारण से ही खोला जा सकता है जिसे गरुड़ मंत्र का जाता है यह गेट यह मंदिर के सुरक्षा के लिए स्थापित किया गया है लेकिन बहुत से बुद्धिजीवियों का कहना है कि अगर यह गेट को खोला गया तो यहां पर प्रलय आ जाएगा सरकार ने भी या गेट को खोलने से अभी मना कर दिया है. “5 Mysterious Temples in India”

5# कन्याकुमारी –

कन्याकुमारी मंदिर भारत के चार धामों में से एक है जो मंदिर के साथ साथ एक पर्यटक स्थल भी है यह मंदिर भारत के दक्षिण में स्थित है जो तमिलनाडु के शहर में कन्याकुमारी नामक शहर में बसा हुआ है यह शहर बरसो से कला संस्कृति का प्रतीक रहा है यहां के मंदिर में मां भगवती देवी कुमारी के रूप में स्थापित है इस जगह का नाम कन्याकुमारी क्यों पड़ा आइए जानते हैं इसके पीछे की कहानी

कहा जाता है कि भगवान शंकर ने एक असुर को वरदान दिया था कि किसी कुंवारी कन्या के अलावा तुम्हें कोई नहीं मार पाएगा धीरे धीरे यह वरदान के कारण वाह असुर लोगों को मारने लगा और सभी तरफ हाहाकार मच गया जिसके चलते देवताओं में माता जगदंबा से प्रार्थना की और माता जगदंबा ने एक कुंवारी कन्या के रूप में अवतार लिया और वह असुर का वध किया .

कन्याकुमारी का रहस्य –

कहा जाता है कि यहां पर शिव शंकर का विवाह माता से होने वाला था परंतु कुछ कारण वर्ष विवाह रुक गया और विवाह में कुछ पकवान के रूप में दाल चावल बनाए गए थे विवाह रुकने के घटना के कारण यह दाल चावल पत्थर के रूप में आ गए जो आज भी यहां पर स्थित है .

कन्याकुमारी तीन सागरों का संगम स्थल तथा पवित्र स्थान है जहां घूमने के लिए बहुत से दर्शनीय स्थल है “5 Mysterious Temples in India”

हेलो दोस्तों कैसे हैं आप सब मेरा नाम Rinky Rohda है और मुझे लोगों को नई और रोचक information देना बहुत ज्यादा पसंद है आशा करती हु आपको मेरा पोस्ट आछा लगा हो .

About the author

Himanshu sonkar

Hello Dosto mera nam Himanshu Sonkar hai or mujhe online aap sab ko information dena bahut hi pasand hai mera post aap logo ke kam aay is Se Jyada Badi Baat aur kuch nahi .

Leave a Reply

%d bloggers like this: