blog Life

जाने Average student कामयाब क्यों होते हैं average VS topper

toppers app ,toppers pizza, topperlearning
Written by Himanshu sonkar

दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि जो Student दिन रात मेहनत करके Top करते हैं unfortunately वह किसी ऐसे इंसान के company में काम करते हैं जो कभी अच्छे नंबरों से पास ना हो सका क्यों ? जाने Average student कामयाब क्यों होते हैं.

average VS topper

हम सब इस माइंडसेट के साथ स्कूल जाते है की हम अच्छे मास ले आए ताकि हमें अच्छी डिग्री और अच्छे सर्टिफिकेट मिल सके जिससे हमें अच्छी नौकरी मिल सके जिससे हम इतना कमा सके कि हमारा घर चल सके ज्यादा से ज्यादा Loan पर एक कार ले ले और आधी जिंदगी के स्टॉलमेंट पर एक घर .

कभी आपने सोचा है ?

कभी आपने सोचा है कि हमेशा ऐसा क्यों होता है तो इसका सीधा सा और सरल सा जवाब है हमारा Education system जिसका मकसद सिर्फ हमें एक जॉब दिलवाना है ” कुछ Thinkers तो यह भी कहते हैं कि हमारे एजुकेशन सिस्टम को अमीरों ने इस तरह से डिजाइन किया है कि यहां से उन्हें अपने बिजनेस के लिए हमेशा एंप्लॉय मिलते रहे ”

तो दोस्तों average Student ही क्यों आखिर अपने लाइफ में काफी आगे चले जाते हैं और Toppers हमेशा Struggles करते रह जाते हैं –

average VS topper – 5 Regions

दोस्तों Regions बताने से पहले मैं आपको बता दूं कि मैंने कुछ Real Life Experience किए हैं उन्हीं पर मैं आपको यह Points बताने वाला हूं यह बातें कुछ लोगों पर तो नहीं बैठेंगे लेकिन हमेशा सभी Toppers के साथ ऐसा ही होता है आप इस पोस्ट को पूरा पढ़ ले उसके बाद ही Comment करें .

1. Toppers never question the validity of Education system

जाने Average student कामयाब क्यों होते हैं average VS topper

टॉपर हमेशा दूसरों को पुराने Education system के आधार पर ही जज करते हैं बिना दूसरों के टैलेंट और स्किल को समझे. यह सिर्फ Education system पर ही भरोसा करते हैं इन्हें बस यह लगता है कि सीखने का तो कोई दूसरा तरीका है ही नहीं .

इनके हिसाब से अगर आप अच्छा नंबर लाते हैं तो आप Talented है अदर वाइज आपके पास चाहे जितने भी स्किल्स हो अगर आपके अच्छे नंबर नहीं आते तो आप Talented नहीं है.

Average – They are other better ways to learn things

दोस्तों जो एवरेज स्टूडेंट होते हैं वह या मानते हैं इस 100 साल पुराने घिसे पिटे एजुकेशन सिस्टम के अलावा भी स्किल और टैलेंट डेवलप करने के कई तरीके हैं इसीलिए यह एजुकेशन सिस्टम के बाहर भी नई चीजें हमेशा सीखने के लिए आगे रहते हैं दोस्तों यह बहुत बड़ा रीजन है एवरेज स्टूडेंट का टॉपर्स से हमेशा कामयाब होने का .

2. This may hurt Topper Mentality People

दोस्तों अब मेरे टॉपर्स दोस्तों को थोड़ा सा बुरा लग सकता है क्योंकि टॉपर हमेशा फैलियर से डरते हैं हम में से ज्यादातर लोगों के बचपन से यह बात सिखाई जाती है कि फेल होना अच्छी बात नहीं है स्कूल में जब स्टूडेंट फेल हो जाता है तो उसे फिर से वही क्लास में बैठाया जाता है ताकि वह 100 साल पुराने Education system के हिसाब से वह अपनी intelligence प्रूफ कर सके .

तो टॉपर्स के दिमाग में हमेशा से यह बैठा दिया जाता है कि फेल होना अच्छी बात नहीं है इसलिए वह बड़े होकर कॉलेज में टॉप करने के लिए बहुत ज्यादा मेहनत करते हैं I mean रट्टा मार ते है. YouTube पर टॉप कैसे करें वीडियो देखते हैं जिसमें एक ऐसा बंदा सीखा रहा होता है जिसने कभी टॉप नहीं किया.

Average – Failure is a part of life

दूसरी तरफ एवरेज स्टूडेंट फैलियर से डरते नहीं है दोस्तों आपने टॉपर स्टूडेंट को देखा होगा इन से कुछ ज्यादा ही एक्सपेक्टेशन कर ली जाती है इसलिए वह फेलियर से डरते हैं लेकिन एवरेज स्टूडेंट से हमेसा टॉप करने की एक्सपेक्टेशन नहीं की जाती इसलिए वह बचपन से फैलियर से नहीं डरते हैं कियोकि इन्हे पता होता है कि फेल होना भी जीवन का एक हिस्सा है.

3. Toppers focus on only doing top

शुरू से जो स्टूडेंट टॉप करते हैं उनके पेरेंट्स और टीचर कुछ ज्यादा ही उनसे एक्सपेक्टेशन कर बैठते हैं और उन से हमेशा कहा जाता है कि तुम हमेशा टॉप करोगे इसलिए वह हमेशा अपना पूरा फोकस टॉप करने में करते हैं नाक की नॉलेज लेने में यहां पर गलती हम पेरेंट्स टीचर और सोसायटी की कर सकते हैं

जाने Average student कामयाब क्यों होते हैं average VS topper

इन्हें बचपन से सिखाया जाता है कि तुम्हें सिर्फ टॉप करना है इसलिए इनके पास सिर्फ पढ़ाई और पढ़ाई का ही वक्त होता है इसलिए इनके पास ज्यादातर बाहरी नॉलेज बिल्कुल नहीं होता और जीवन में survive करने के लिए किताबी ज्ञान की जरूरत कम होती है और बाहरी ज्ञान की जरूरत सबसे ज्यादा होती है.

Average – Learning
जाने Average student कामयाब क्यों होते हैं average VS topper

अगर हम बात करें एवरेज स्टूडेंट की तो इनका शुरू से फोकस top करने में नहीं बल्कि नॉलेज लेने में होता है यह पढ़ाई के साथ साथ बाहरी नॉलेज भी लेते रहते है अधिकतर इन लोगों का Mindset Practical होता है इनके पास situation को हैंडल करने का बहुत अच्छा Experience धीरे धीरे बनते जाता है जो पढ़ाकू और टॉपर बच्चों में नहीं देखा गया है.

दोस्तों आपको 3 Idiot movie का डायलॉग तो याद ही होगा यह मेरा भी फेवरेट है –

“कामयाब होने के लिए नहीं काबिल होने के लिए पढ़ो”
“एक्सीलेंस का पीछा करो सक्सेस झक मार के तुम्हारे पास आएगी”

दोस्तों अब मैं आपको एक बेवकूफ बच्चे की कहानी सुनाने वाला हूं जिसे आप पढ़कर कुछ हद तक जरूर समझ जाएंगे मैं क्या कहना चाहता हूं और हां दोस्तों यह एक रियल स्टोरी है लास्ट में मैं आपको उस बेवकूफ बच्चे का नाम भी बताऊंगा

अब मैं आपको एक बेवकूफ बच्चे की कहानी सुनाता हूं –

एक बेवकूफ सा बच्चा था एक बार उसकी टीचर ने उसके मां को उसके स्कूल बुलाकर उससे कहा कि आपका बच्चा बेवकूफ है यह पढ़ नहीं सकता इसे कुछ समझ नहीं आता यह जिंदगी में कुछ नहीं कर सकता टीचर ने उस बच्चे के साथ उसकी मां की भी बहुत इंसल्ट की और उनसे कहा ..कि इसे ले जाओ और इस बच्चे को कुछ काम – वाम सिखाओ क्योंकि पढ़ना इसके बस की बात नहीं है उसकी मां ने उस बच्चे को उस स्कूल से निकाल दिया Education system के हिसाब से वह बच्चा बेवकूफ था और वह बच्चा जिंदगी में कुछ नहीं कर सकता था चलिए अब मैं आपको उस बच्चे का नाम बताता हूं – Thomas Alva Edison

दोस्तों इस बेवकूफ बच्चे ने 2000 से भी ज्यादा इन्वेंशन किए हैं इस बेवकूफ बच्चे ने GE नाम की कंपनी बनाई है जहां पर आज दुनिया भर के टॉपर नौकरी करते हैं.

इसे जरूर पढ़ें –

Rich Mentality VS Poor Mentality | गरीब VS अमीर

Motivational Quotes Hindi – महान हस्तियों के विचार

Conclusion –

एक बात आप हमेशा याद रखना जब तक एजुकेशन का का मकसद समाज में नौकरी पाना होगा तब तक समाज में नौकर ही पैदा होंगे मालिक नहीं दोस्तों इस पोस्ट का मकसद किसी को नीचा दिखाना या किसी को महान बताना बिल्कुल नहीं है मैंने आपको सत्य से अवगत कराया है .

आप जरा एक बार सोचिए कि आप अपने बच्चों को कौन सी दौड़ में भगा रहे हैं जो शायद कभी खत्म होगी ही नहीं आप कुछ नंबरों के बदौलत इंसान के लाइफ के बारे में कैसे बता सकते हैं की वह कुछ कर पाएगा की नहीं मैंने आपको थॉमस एडिशन का उदाहरण देकर बताया है ऐसे लाखों-करोड़ों उदाहरण है .

About the author

Himanshu sonkar

Hello Dosto mera nam Himanshu Sonkar hai or mujhe online aap sab ko information dena bahut hi pasand hai mera post aap logo ke kam aay is Se Jyada Badi Baat aur kuch nahi .

Add Comment

Leave a Reply

%d bloggers like this: